Home Tech News What is Patent , Copyright & Trademark in Hindi !

What is Patent , Copyright & Trademark in Hindi !

0
What is Patent Copyright or Trademark

अक्सर आप सभी लोग पेटेंट , कॉपीराइट , ट्रेडमार्क जैसे शब्द सुनते ही रहते होंगे तो आपको मन में हमेशा ये सवाल उठता होगा की What is Patent , Copyright & Trademark तो आज हम उसी के बारे में बात करने वाले है ,की

What is Patent , Copyright & Trademark ?

जो आईडिया आपके दिमाग में आया है वो आईडिया किसी और के दिमाग में भी आ सकता है ! लेकिन आईडिया उसी का माना जाता है जो उसे रजिस्टर करा लेता है ! तो आईडिया को रजिस्टर कराने के तरीके को पेटेंट कहा जाता है ! किसी आईडिया का पेटेंट ही उससे होने वाली कमाई को आपके जेब तक पहुचाती है ! पेटेंट वो एग्रीमेंट है , जिसके तहत किसी भी नई खोज से बनने वाले उत्पाद पर  खोजकर्ता को अधिकार देता है ! यह अधिकार सरकार द्वारा दिया जाता है ! इसके बाद इसे किसी निश्चित अवधि तक कोई इसे बना सकता है ! ना ही बेच सकता है ! अगर बनाना चाहे तो उसके लिए उसे खोजकर्ता से लाइसेंस लेना पड़ेगा और रोयल्टी देनी पड़ेगी !

Ethical Hacker in India ? कैसे बने !

ये जबरदस्त 5 Android Apps जरुर Download कीजिये !

Top 5 Web Hosting Provider in India ! 2018

WTO यानी वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाइजेशन ने इसका एक निश्चित अवधि लागु कर दी है ! जो की 20 साल है ! यानी की आप कोई आईडिया को पेटेंट करते है तो उस पर 20 साल तक आपका अधिकार हो जाता है ! और कोई दूसरा व्यक्ति उसे अपने नाम से नही चला सकता है ! पेटेंट हासिल करने वाला खोजकर्ता अपना यह अधिकार किसी को बेच भी सकता है ! और किस और के नाम भी ट्रान्सफर भी कर सकता है !

चलिए अब हम बात करते है की पेटेंट कितनी तरह के होते है ? 

यूनाइटेड स्टेट ट्रेड मार्के ऑफिस के अनुसार पेटेंट 3 तरह के होते है !

  1. Utility Patent :-  यह पेटेंट किसी मशीन के कच्चा माल , किसी प्रोडक्ट को तैयार करने वाली सामग्री या इसमे से किसी को सुधार कर सुरक्षित करता है ! जैसे :- दवा , कंप्यूटर , हार्डवेयर, ऑप्टिकल फाइबर , इत्यादि इसके अंदर आते है !
  2. Design Patent :- यह पेटेंट किसी भी डिजाईन को गैर क़ानूनी इस्तेमाल से रोकता है ! जैसे की किसी मोबाइल का डिजाईन , जूता का डिजाईन या फिर कार्टून का डिजाईन के कॉपी करने से रोकता है !
  3. Plant Patent :- इसके जरिये , नये तरीके से तैयार किये पौधों को प्रोटेक्ट किया जाता है ! जैसे कोई भी हाइब्रिड गुलाब , या फिर कोई नये किस्म का पौधा ये सभी प्लांट पेटेंट के अन्दर आते है !

लिए अब हम जानते है की किन चीजों का पेटेंट नही करवाया जा सकता है ?

  • Rule of Nature :- जैसे की हवा , ग्रेविटी , इन चीजों का आप पेटेंट नही करवा सकते है !
  • Natural Things :- जैसे की मिट्टी , पानी  इन चीजों का भी पेटेंट आप नही करवा सकते है !
  • Abstract Ideas :- इसमें आप मैथमेटिक्स फिलोसफी वगैरह का भी पेटेंट आप नही करवा सकते है !

किन चीजों का पेटेंट करवाया जा सकता है?

सबसे पहले आपकी खोज सबसे अलग होनी चाहिए ! अगर आप किसी दवा में कुछ नये पदार्थ मिलकर कोई नही चीज़ बनाते है , तो आपका खोज पेटेंट नही होगा ! क्योकि आपकी खोज अधूरी है ! तो आपके खोज पूरी तरह से नया होना चाहिए ! जो पहले कभी ना बना हो !

दूसरी चीज़ आती है , की आपकी खोज लोगो के लिए उपयोगी होना चाहिए ! या फिर किसी काम का होना चाहिए ! और जो दावे किये गये हो उनपे वो खरा भी उतरता हो ! अगर आपके कोई ऐसा खोज है , जो सबसे अलग है तो आप उसका पेटेंट करवा सकते है !

चलिए अब हम बात करते है की Copyright क्या होता है ?

Copyright किसी मालिक को किसी खास मालिकाना हक़ के साथ काम करने का अधिकार देता है ! Copyright भी Patent के जैसा ही है ! Copyright Music, Art , Writing , और Art से जुड़े ऐसे कामो को प्रोटेक्ट करता है ! जो पूरी तरह से किसी का पूरा अधिकार हो ! Copyright का अधिकार किसी व्यक्ति के पुरे जीवन रहने तक और उसे मृत्यु के 70 साल बाद तक रहता है ! यदि आप किसी चीज़ का कॉपीराइट करवाते है ! आपके पुरे जीवन काल तक आपका कॉपीराइट रहता है ! और आपके मरने के बाद 70 सालो तक आपका ही कॉपीराइट रहता है ! लेकिन 70 साल बाद उस पर आपका कॉपीराइट नही रहा है ! और वो सार्वजानिक हो जाता है !

चलिए अब हम जानते है की किन चीजों को Copyright के तहत सुरक्षित रखा जा सकता है ?

  • सबसे पहले आता है ! ऑनलाइन काम जैसे फोटो, विडियो शो , गेम्स , कंप्यूटर सॉफ्टवेर , ड्रामा ,  जिन आप कॉपीराइट कर सकते है !
  • दूसरी चीज़ आती है वौइस् रिकॉर्डिंग , म्यूजिक
  • और तीसरी चीज़ आती है राइटिंग असाइनमेंट जैसे कोई किताब या उपन्यास , इत्यादि जिस आप कॉपीराइट लगा सकते है !

सिर्फ कॉपीराइट होल्डर ही अपनी रचना को दुबारा से पब्लिश करके कमाई कर सकता है ! अगर वो चाहे तो अपने अधिकार को ट्रान्सफर कर सकता है ! या फिर बेच सकता है ! कॉपीराइट एक निश्चित अवधि तक भी होता है ! उसके बाद उसे सार्वजानिक मन लिया जाता है ! और उसे कोई भी इस्तेमाल कर सकता है !

चलिए अब जानते है की ट्रेडमार्क क्या होता है ?

कोई भी शब्द, नाम, चिन्ह या कोई पहचान ट्रेडमार्क हो सकता है ! ट्रेडमार्क एक ब्रांड का नाम होता है ! जैसे की Apple, Samsung इत्यादि ये सब एक ट्रेडमार्क है !  ट्रेडमार्क किसी भी ब्रांड या सर्विस की अलग पहचान बताने वाले शब्द , चिन्ह , आवाज या फिर किसी पहचान को सुरक्षित करता है ! ट्रेडमार्क को हमेशा के लिए रजिस्टर करवा सकता है ! पेटेंट को केवल आप 20 सालो तक के लिए रजिस्टर करवा सकते है ! यह तब तक सुरक्षित रहेगा जब तक आपका बिज़नस चलता रहेगा ! ट्रेडमार्क किसी भी कम्पनी या प्रोडक्ट का पहचान होता है ! जो मार्केटिंग में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है !

ट्रेडमार्क का इस्तेमाल किसी दुसरे व्यक्ति द्वारा किसी भी प्रोडक्ट का एक हुबहू चिन्ह या नाम रखकर लोगो को भ्रमित करने से रोकने के लिए होता है ! ट्रेडमार्क यह निश्चित करता है की ये प्रोडक्ट किसी खास कंपनी के द्वारा बनाया जा रहा है !

आम तौर पर किसी लोगो, चिन्ह , या किसी आवाज को ट्रेडमार्क बनाया जाता है ! इसे कोई भी व्यक्ति अपने कंपनी, संस्था या अपने प्रोडक्ट के लिए इस्तेमाल कर सकता है ! और वो अपने ट्रेडमार्क को उस पर लगा सकता है ! ट्रेडमार्क रजिस्टर और नॉन रजिस्टर दोनों तरह का हो सकता है !

तो अब आपको ये नही सोचना पड़ेगा की What is Patent , Copyright & Trademark ये क्या होता है ! अगर आपके पास भी कोई नई चीज़ की खोज है तो आप भी उसे पेटेंट करवा सकते है !

Leave a Reply